Home LIFESTYLE प्रोटीन(Proteins) की कमी से होने वाली बीमारियां और उनका इलाज |

प्रोटीन(Proteins) की कमी से होने वाली बीमारियां और उनका इलाज |

देखिये ये बात तो सभी लोग जानते हैं,की प्रोटीन्स हमारे शरीर या बॉडी के लिए कितने जरूरी होते हैं,प्रोटीन्स ऐसे कंपाउंड्स(Compounds) होते हैं,जिनकी जरूरत हमारे शरीर को लगभग हर काम के लिए होती है,जैसे की बॉडी की ग्रोथ(Growth) के लिए भी प्रोटीन्स बहुत आवश्यक होते हैं|प्रोटीन के स्रोत की बात करें तो,मीट(Meat),मछली,अंडा,सोयाबीन,आदि,प्रोटीन के अच्छे स्रोत हैं|पर यदि आपके शरीर में प्रोटीन की कमी हो जाए तो ? तो फिर आपको दो बहुत की खतरनाक बीमारियों का सामना करना पड़ सकता है|तो इस पोस्ट में आपको प्रोटीन की कमी से होने वाली बीमारियों के बारे में,उनके लक्षण(Symptoms) के बारे में और उनके इलाज के बारे में बताया गया है|और इस पोस्ट में आपको कोई भी ऐसा ट्रीटमेंट नहीं बताया गया है,जिसमें आपको कोई दवा या मेडिसिन लेनी पड़े,इस पोस्ट में आपको सिंपल से सिंपल ट्रीटमेंट बताये गये हैं,जिन्हें आप आसानी से कर सकते हैं|

प्रोटीन की कमी से होने वाली बीमारियां

तो अब बात करते हैं कि प्रोटीन की कमी से कौनसी दो बीमारियां होती हैं,तो उनके नाम हैं- क्वाशियर्कॉर(Kwashiorkor) और मरस्मस(Marasmus)|ये दोनों ही बीमारियां बहुत खतरनाक होती हैं और दोनों ही कुपोषण(Malnutrition) की वजह से होती हैं|ये बीमारियां किसी भी ऐज(Age) ग्रुप के व्यक्ति को हो सकती हैं|यदि इनका इलाज जल्दी नहीं किया जाए तो ये बहुत ही बड़ी समस्या उत्पन्न कर सकती हैं|इन दोनों में से यदि एक भी बीमारी किसी व्यक्ति को हो जाती है,तो उसका शरीर बिलकुल पतला हो जाता है पर बहुत से बॉडी पार्ट्स(Parts) में सूजन आ जाती है

लक्षण(Symptoms)

अब बात करते हैं इन बीमारियों के लक्षण(Symptoms) की यानि की आप कैसे इन्हे पहचान सकते हैं,तो इनके निम्नलिखित लक्षण हैं-व्यक्ति की स्किन और बालों का रंग सूखा हो जाता है,टखनों(Ankles),पैरों और पेट पर सूजन आ जाती है,बॉडी की ग्रोथ रूक जाती है,बॉडी का वजन कम हो जाता है,इम्यून(Immune) सिस्टम डैमेज हो जाता है,दस्त(Diarrhoea) भी हो सकते हैं,आदि|तो इन सभी लक्षण से आप इन दोनों बीमारियों को पहचान सकते हैं|

इलाज(Treatment)

तो अब अंत में बात करते हैं इनके इलाज की, की कैसे आप इन बीमारियों का इलाज कर सकते हैं,बिना किसी दवा का इस्तेमाल किये|तो आपको अपने डेली भोजन में प्रोटीन युक्त आइटम्स(Items) की मात्रा बढ़ानी होगी,साथ ही आपको ऐसे फूड्स खाना शुरू करना होगा जिनमें ज्यादा मात्रा में कार्बोहाइड्रेट्स(Carbohydrates) और कैलोरीज(Calories) हों|बात करें मरस्मस(Marasmus) के इलाज की तो,यदि बच्चे को ये बीमारी है तो उसे उबला दूध हलके से पानी में मिलाकर पिलाएं,या फिर वेजिटेबल आयल का इस्तेमाल भी किया जा सकता है,जैसे-तिल(Sesame)|तो ऐसे ही घर पर ही आप इन बीमारियों का इलाज कर सकते हैं,पर ज्यादा परेशानी होने पर डॉक्टर से जरूर मिलें|

तो अब आपको पता चल गया होगा कि प्रोटीन की कमी से ह्यूमन बॉडी में कौन-कौन सी डिसीसेस(Diseases) हो सकती हैं,साथ ही उनके क्या-क्या लक्षण होते हैं,और अंत में उनका इलाज भी आपको बताया गया है|

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments

Archives