Home LIFESTYLE मिनरल्स(Minerals) की कमी से होने वाली बीमारियां और उनका इलाज |

मिनरल्स(Minerals) की कमी से होने वाली बीमारियां और उनका इलाज |

देखिये वैसे तो मिनरल्स यानी की खनिजों की आवश्यकता ह्यूमन बॉडी को कम मात्रा में होती है पर बॉडी को नार्मल फ़ंक्शंस यानि की क्रियाओं के लिए मिनरल की जरूरत होती है,यदि ह्यूमन बॉडी को मिनरल्स सही मात्रा न मिलें तो बॉडी अपने फ़ंक्शंस(Functions) ठीक से नहीं कर पाती है,और कुछ बीमारियां भी व्यक्ति को हो सकती हैं|मिनरल्स की कमी या Poor Diet का एक कारण जंक फ़ूड यानि कि बाहर का खाना भी है|बात करें मिनरल्स के स्रोत(Source) की तो मीट,मछली,दूध,डेरी प्रोडक्ट्स,आदि मिनरल्स के अच्छे स्रोत हैं|मिनरल्स की कमी से कुछ बहुत गंभीर बीमारियां भी व्यक्ति को हो सकती हैं,तो इस पोस्ट में आपको कुछ ऐसी ही बीमारियों के बारे में बताया गया है,जो की मिनरल्स की कमी से होती है,साथ ही उनके सिम्पटम्स के बारे में और उनके इलाज के बारे में भी बताया गया है|

मिनरल्स(Minerals) की कमी से होने वाली बीमारियां

तो देखिये सबसे पहले तो आपको बता दें कि मिनरल्स यानी की खनिजों में आपके-कैल्शियम, आयरन, मैग्नीशियम, पोटैशियम(Potassium), जिंक आते हैं,यदि इनमें से किसी की भी कमी आपकी बॉडी में होती है,तो आपको अलग-अलग बीमारियां हो सकती हैं,जैसे यदि आपकी बॉडी में कैल्शियम की कमी हो जाती है,तो आपकी हड्डियां और दाँतों में प्रॉब्लम्स हो सकती हैं,आयरन की कमी से आपको Anaemia हो सकती है,यानि की खून की कमी,पोटैशियम की कमी से आपके हार्ट के फंक्शन में कमी आ सकती है,जिंक की कमी से बच्चों की ग्रोथ में रूकावट आ सकती है|

Symptoms(लक्षण)

अब देखते हैं इनके लक्षण क्या-क्या हो सकते हैं,तो अगर आपकी बोन्स में कोई प्रॉब्लम आती है तो आपको कम भूख की शिकायत हो सकती है,मांस पेशियों में तनाव हो सकता है,और आपको सुन्न्पन्न की शिकायत भी हो सकती है|यदि आपको खून की कमी होती है,तो आपको थकान और कमजोरी जैसे लक्षण दिखाई देंगे|यदि आपके हार्ट के फंक्शन में कोई कमी आती है,तो आपको थकान , गुर्दे की बीमारी और कॉन्स्टिपेशन भी हो सकते हैं|यदि आपकी बॉडी में जिंक की कमी होती है,तो आपको कम भूख की शिकायत हो सकती है,आपका इम्यून सिस्टम भी कमजोर हो सकता है|

Treatments(इलाज)

अब अंत में बात करते हैं कि मिनरल्स की कमी से होने वाली बीमारियों का इलाज कैसे किया जा सकता है,तो सबसे पहले आप अपनी डाइट को बदलें,आप अपनी डाइट में ऐसे भोजन सम्मिलित करें जिनमें सही मात्रा में मिनरल्स हों,जैसे की मीट,मछली,दूध,डेरी प्रोडक्ट्स,आदि ,और बाहर के खाने से बिलकुल दूर रहें|ये इलाज तो नार्मल मिनरल की कमी के लिए थे,पर यदि आपकी बॉडी में बहुत ही ज्यादा मिनरल की कमी है तो तुरंत अपने डॉक्टर से सलाह लें,जिससे की आपको ज्यादा बड़ी प्रॉब्लम का सामना न करना पड़े|

तो अब आप समझ गए होंगे की मिनरल्स की कमी से व्यक्ति को कौन-कौन सी बीमारियां हो सकती हैं ,उनके सिम्पटम्स क्या होते हैं,और उनके क्या-क्या इलाज आप कर सकते हैं ये भी अब आपको पता चल गया होगा|

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments

Archives