HomeFashionNew Lookब्लॉग्गिंग(Blogging) करने के लिए कौनसे टिप्स हैं ज़रूरी ?

ब्लॉग्गिंग(Blogging) करने के लिए कौनसे टिप्स हैं ज़रूरी ?

तो यदि कोई भी व्यक्ति अगर ब्लॉगैंग करता है तो उसे बहुत सी बातों का ध्यान रखना पड़ता है|और ब्लॉग्गिंग करना बिलकुल भी आसान नहीं होता है,पर अगर आपने ठान लिया है की आपको ब्लॉग्गिंग करनी ही है तो फिर आप ब्लॉग्गिंग आसानी से कर सकते हैं,बस आपको कुछ Practice की ही ज़रुरत पड़ती है और Practice के बाद आप एक दम परफेक्ट हो जाते हैं,पर तब भी बहुत सी ऐसी बातें होती हैं जो आपको बिलकुल भी नहीं पता होती हैं पर आपको वो पता होनी चाहिए अगर आप अच्छी ब्लॉग्गिंग करना चाहते हैं तो|तो इस पोस्ट(Post) में आपको कुछ ऐसी ही बातें या टिप्स बताए गए हैं जो आपको अच्छी ब्लॉग्गिंग करने में हेल्प करते हैं|

अलग-अलग शब्दों का प्रयोग करें

देखिये यहाँ पर बात आपके शब्दकोश की हो रही है मतलब की आप कितने क्रिएटिव(Creative) वर्ड्स(Words) का प्रयोग कर सकते हैं जो नार्मल शब्दों से अलग हों|मतलब आपको ब्लॉग्गिंग करते वक्त उन शब्दों का प्रयोग कम करना है जिन्हे लोग नॉर्मली प्रयोग करते हैं,जिसके लिए आपको ज्यादा से ज्यादा वर्ड्स का ज्ञान होना बहुत ही जरूरी है|क्यूंकि जब आप अपने ब्लॉग में थोड़े डिफरेंट वर्ड्स का इस्तेमाल करते हैं तो आपका ब्लॉग थोडा सा डिफरेंट हो जाता है नार्मल लोगों के ब्लॉग से|इसीलिए ब्लॉग लिखने से पहले अपने शब्दों के ज्ञान को बढ़ाएं,जिससे की आप अपने ब्लोग्स को और आकर्षित बना सकें|

कम शब्दों में ब्लॉग ख़त्म न करें

देखिये बहुत से लोग मैंने ऐसे देखे हैं जो सिर्फ 1 या 2 छोटे-छोटे पैराग्राफ में अपना ब्लॉग ख़त्म कर देते हैं,तो आपको ऐसा बिलकुल भी नहीं करना है आपका ब्लॉग कम से कम 3 से 4 पैराग्राफ का तो होना ही चाहिए और ज्यादा तो आप कितना भी लिख सकते हैं|और वैसे भी ब्लॉग्गिंग का ये एक नियम भी होता है की आपके ब्लॉग में 300 के आस-पास शब्द होने ही चाहियें|और इससे आपका शब्द ज्ञान भी बढेगा मतलब की आप नए-नए शब्द भी सीख सकते हैं|मतलब की एक तीर से दो निशाने यहाँ पर आप लगा सकते हैं,एक तो आप रूल भी फॉलो कर रहे हैं और दूसरा आप नए-नए शब्द भी सीख रहे हैं,जिन्हे आप अपने ब्लॉग में इस्तेमाल कर सकते हैं|

अपने मन की बातें ही ब्लॉग में लिखें

देखिये ब्लॉग्गिंग आप सिर्फ और सिर्फ अपने अंदर की बातों से ही कर सकते हैं,यदि आप किसी को कॉपी करने की कोशिश करेंगे तो आप कभी भी ब्लॉग्गिंग नहीं कर पाएंगे|आपको सिर्फ अपने दिल या मन की बातें ही अपने ब्लॉग में लिखनी हैं,जो ब्लॉग लिखते वक्त आपके मन में आती हैं बस उन्हें ही आपको लिखना है|ऐसा करने से आपको ब्लॉग्गिंग में इंटरेस्ट(Interest) आता है और पड़ने वाले लोगों को भी उसे पढ़ने में मज़ा आता है|और ऐसा करने से आप लोगों के सामने अपनी बात अच्छे से प्रेजेंट(Present) कर पाते हैं|इसीलिए ब्लॉग्गिंग करते वक़्त किसीको कॉपी करने के वजह अपने मन की बातें ही ब्लॉग में लिखें|

तो अगर आप अपनी ब्लॉग्गिंग को अलग लेवल(Level) पर ले जाना चाहते हैं और अपनी ब्लॉग्गिंग से लोगों को इम्प्रेस(Impress) करना चाहते हैं,तो इन टिप्स को जरूर फॉलो करें|

RELATED ARTICLES

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments

Archives